Breaking News

shimla में अपनों ने ही बनाया मासूम बच्ची को हवस का शिकार !


शिमलाः हिमाचल में अपनों ने ही बनाया मासूम बच्ची को हवस का शिकार !जब अपने ही दरिंदे बन जाए तो दुनिया क्या कर सकती है। ऐसा ही कुछ हुआ हिमाचल प्रदेश में। एक मासूम के रिस्तेदारों ने एक बच्ची को अपनी हवस का शिकार बना दिया। जिससे पूरा देश सन्न है। हालाकि दरिंदे को पुलिस ने बंदी बना लिया है, लेकिन हमारे समाज में ऐसे कई ओर दरिंदे हैं जो आज भी अपनों के रूप में खुलेआम घूम रहे हैं।


आपको बता दें कि हिमाचल प्रदेश के हरिपुर के पास साढे तीन साल की एक बच्ची को उसके ही रिश्तेदार ने हवस का शिकार बना डाला. पीड़िता के परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ आईपीसी की धारा 376 और पॉक्सो कानून के तहत केस दर्ज कर लिया है. पीड़िता की मेडिकल जांच कराई गई है. आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.


मीडिया खबरों के अनुसार, कांगड़ा के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संतोष पटियाल ने बताया कि बच्ची के परिजन घर से बाहर गए हुए थे. उसी दौरान आरोपी ने वारदात को अंजाम दिया है. उसके खिलाफ आईपीसी की धारा 376 और पॉक्सो अधिनियम की धाराओं के अधीन मामला दर्ज कर लिया गया है. बच्ची को अस्पताल में भर्ती कराया गया. उसे जांच के बाद छुट्टी दे दी गई है.


जैसा कि आप जानते हैं कि पिछले साल जुलाई में शिमला में हुए गुड़िया कांड ने पूरे देश को झकझोर दिया था. एक मासूम लड़की के साथ गैंगरेप के बाद बर्बर तरीके से उसकी हत्या करके जंगल में फेंक दिया गया था. इस घटना के बारे हिमाचल घाटी में आग लग गई. लोग सड़कों पर आ गए. हर तरफ प्रदर्शन होने लगे. इस मामले की जांच सीबीआई को दी गई है.


खबरों के अनुसार, आरोपी राजेंद्र उर्फ राजू अपने दोस्त आशीष और सुभाष के साथ कहीं जा रहा था. उसने 10वीं में पढ़ने वाली गुड़िया को देखा और गाड़ी रोककर उसे घर तक लिफ्ट देने की बात कही. गुड़िया इलाके में नई आई थी. राजू को जानती थी. वह अक्सर स्कूली बच्चों को ले जाता था, जिससे शक नहीं हुआ. लिहाजा वह उसके साथ गाड़ी में बैठ गई.


पुलिस के मुताबिक, राजू और उसके दोस्त शराब के नशे में धुत थे. उन्होंने बीच जंगल में सामान उतारने का बहाना बनाते हुए गाड़ी रोक दी. मासूम के साथ गैंगरेप किया. अपने तीन साथियों को भी वहां बुला लिया और फिर गुड़िया की बेरहमी से हत्या कर उसकी लाश को जंगल में फेंक दिया. गैंगरेप के दौरान दरिंदों ने गुड़िया के साथ हैवानियत की इंतेहा कर दी.


हिमाचल प्रदेश की ही तरह यूपी के मुजफ्फरनगर में 16 वर्षीय एक लड़की से 22 वर्षीय एक युवक ने रेप की वारदात को अंजाम दिया. हैरानी की बात ये है कि बलात्कार की इस वारदात को आरोपी की बहन ने अपने मोबाइल में कैद कर लिया. पीड़िता की तहरीर पर पुलिस ने आरोपी भाई और बहन के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है.


वारदात सिविल लाइन्स इलाके में हुई है. पीड़ित का आरोप है कि आरोपी की बहन उसे एक मकान में ले कर गई. वहां उसका भाई पहले से मौजूद था. उसने उसे अपनी हवस का शिकार बना डाला. इस दौरान आरोपी की बहन ने वीडियो बना लिए. पीड़ित को घटना की जानकारी देने पर गंभीर नतीजा भुगतने की धमकी भी दी थी.

कोई टिप्पणी नहीं