Breaking News

सऊदी में फंसे हिमाचल के दो भाई, BJP सांसद अनुराग से मांगी मदद, कमरे में बंद दोनों


नौकरी की चाहत में सऊदी अरब गए हिमाचल के ऊना जिले के गांव अरनियाला और अजनोली के दो युवक वहाँ फँसे गए हैं. यह दोनों युवक एक-दूसरे के भाई भी लगते हैं.

पीड़ित युवकों के परिवारों ने सांसद अनुराग ठाकुर के माध्यम से भारत सरकार से मदद करने की अपील की है. युवकों के परिवार का आरोप है कि सऊदी अरब में इनके बेटों के ऊपर ज़ुल्म ढाया जा रहा है. ना तो उन्हें भरपेट खाना मिल रहा है और ना ही महीनों से वेतन मिला है.

कमरे में बंद किया
परिजनों का कहना है कि दोनों को एक कमरे में बंद कर दिया गया है. पीड़ित परिवार का आरोप है कि उन्हें केवल जीवित रखने के लिए बीच-बीच में कभी एक वक़्त तो कभी दो वक़्त का खाना दिया जाता है.

उनके मोबाइल में बात करने के लिए पैसे भी नहीं हैं. ऐसे में पीड़ितों ने किसी तरह दूसरे के फोन से परिवार को सूचित किया. अब पीड़ित परिवार अपने बच्चों की सुरक्षित वतन वापसी के लिए शासन-प्रशासन के दर पर दस्तक दे

भाजपा अध्यक्ष सत्ती से संपर्क किया
ग्राम पंचायत अरनियाला के प्रधान अशोक धीमान ने बताया कि जैसे उनके ध्यान में मामला आया, उन्होंने तुरंत भाजपा केे प्रदेशाध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती से इस बारे बात की. उन्होंने बताया कि भाजपा अध्यक्ष ने तुरंत सांसद अनुराग ठाकुर से बात कर मामले को विदेश मंत्रालय के समक्ष उठाया है. 

पंचायत प्रधान ने कहा कि साउदी में फंसे युवकों के परिजनों का रो-रो कर हाल बेहाल है. इसलिए भारत सरकार जल्द ही इसमें उचित कदम उठाकर युवकों की वतन वापसी सुनिश्चित करे.

केंद्र सरकार से उम्मीद
पीड़ित परिवार को अब सिर्फ भारत सरकार से ही सहायता की आस है. पीड़ितों के परिवारों ने सांसद अनुराग ठाकुर के माध्यम से विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मदद की अपील की है और उनसे इस मामले में हस्तक्षेप कर पीड़ित नौजवानों की वतन वापसी की गुहार लगाई है. बीजेपी सांसद अनुराग ठाकुर ने इस मामले को विदेश मंत्रालय के समक्ष उठाने की बात कहते हुए पीड़ित नौजवानों की जल्दी वतन वापसी की उम्‍मीद जताई है.

कोई टिप्पणी नहीं