Breaking News

हिमाचल: पति के हत्या के आरोप में पत्नी समेत तीन दोषी करार, बोरी में छिपाकर नदी में फेंक दी थी लाश


अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश अर्पणा शर्मा की अदालत ने हत्या का आरोप साबित होने पर एक महिला समेत तीन आरोपियों को दोषी करार देते हुए आजीवन कारावास और जुर्माने की सजा सुनाई है। मामला हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले का है। आरोप था कि महिला ने दो युवकों के साथ मिलकर अपने पति को मौत के घाट उतारा और लाश बोरी में छिपाकर ब्यास नदी में फेंक दी।

अभियोजन पक्ष और बचाव पक्ष की दलीलें सुनने के बाद अदालत ने आरोपी अमर चंद उर्फ पिल्लू पुत्र शक्ति राम गांव बैहना, सतीश कुमार पुत्र प्रह्लाद भक्त निवासी गली नंबर आठ प्रीत नगर गुलाबगढ़ रोड़ डेरा बस्सी जिला मोहाली पंजाब और लता देवी पत्नी स्वर्गीय मनोज कुमार निवासी गांव बैहना को आपराधिक षड्यंत्र करके हत्या करने, पुलिस को गुमराह करने और साक्ष्य मिटाने के आरोप में दोषी करार दिया।

अदालत ने आरोपी अमर चंद और सतीश कुमार को भादंसं की धारा 302 के तहत आजीवन कारावास तथा बीस हजार जुर्माना, भादंसं की धारा 201 के तहत दो साल का कारावास और पांच हजार जुर्माना, भादंसं की धारा 404 के तहत तीन साल कारावास पांच हजार जुर्माना और भादंसं की धारा 452 के तहत तीन साल कारावास और पांच हजार जुर्माने की सजा सुनाई है। अभियोजन पक्ष ने अदालत में 33 गवाहों के बयान कलमबद्ध करवाए।

कोई टिप्पणी नहीं